Monday, August 8, 2011

इंतजार में बैठी हूँ ?

आप का इंतजार में ..
मै बैठी हूँ |
कभी घड़ी को देखू 
कभी अपनी से फ़ोन को देखू ||
आप की आवाज सुनने को बेक़रार 
है ये दिल 

कि कब आयेगा 
आप का फ़ोन 
इतना तो इंतजार मत 
कराओ कि कडवी हो जाए |

हर पल -हर घड़ी 
हर सास हर आवाज 

आप को पुकारे रही है 
यह क्यू समझ  नही पाते हो तुम 
इतना तो इंतजार तो मत कराओ
*****************************

29 comments:

  1. दिल से निकली हुई सच्ची रचना लिखी है,
    आपने अपनी आज की इस पोस्ट में!
    वाकई में इन्तज़ार में बेकरारी होती है,
    मगर इन्तजार में मज़ा भी है और सजा भी हैं!

    ReplyDelete
  2. भावमय करते शब्‍दों के साथ गजब का लेखन ...आभार ।

    ReplyDelete
  3. प्यार में बेकरारी की, सुन्दर - चित्ताकर्षक प्रस्तुति

    ReplyDelete
  4. सुन्दर भावनात्मक प्रस्तुति बधाई

    ReplyDelete
  5. sunder bhavo se bahri is virahi rachna ko mera salam.................

    ReplyDelete
  6. आपकी इस उत्कृष्ट प्रविष्टी की चर्चा कल मंगलवार के चर्चा मंच पर भी की गई है!
    यदि किसी रचनाधर्मी की पोस्ट या उसके लिंक की चर्चा कहीं पर की जा रही होती है, तो उस पत्रिका के व्यवस्थापक का यह कर्तव्य होता है कि वो उसको इस बारे में सूचित कर दे। आपको यह सूचना केवल इसी उद्देश्य से दी जा रही है! अधिक से अधिक लोग आपके ब्लॉग पर पहुँचेंगे तो
    चर्चा मंच का भी प्रयास सफल होगा।

    ReplyDelete
  7. Bahut achchha likha hai.shubhkamna

    ReplyDelete
  8. चलो जी आपका इंतजार खत्म हो जाये तो बता देना।

    ReplyDelete
  9. सुंदर रचना के लिए साधुवाद!

    मेरे ब्लॉग पर आपका स्वागत है!

    ReplyDelete
  10. very good
    and welcome to you on my blog

    ReplyDelete
  11. बहुत ही खुबसूरत रचना....

    ReplyDelete
  12. अद्भुत सुन्दर रचना ! ख़ूबसूरत चित्र के साथ भावमय प्रस्तुती!

    ReplyDelete
  13. मानसिक कुहांसे को शब्द देती रचना ,इंतज़ार की बे -कली कुछ यूं -प्रतीक्षा में युग बीत गये सन्देश न कोई मिल पाया ,सच बतलाऊ तुम्हें प्राण इस जीने से मरना भाया .अच्छी प्रस्तुति के लिए बधाई . .http://veerubhai1947.blogspot.com/
    सोमवार, ८ अगस्त २०११
    What the Yuck: Can PMS change your boob size?

    ReplyDelete
  14. विद्या जी लिखतीं रहिएगा ,लिखने से भाव विरेचन होता है ,व्यक्ति तनाव मुक्त होता है अच्छे हारमोन बनतें हैं ..कृपया यहाँ भी आयें - http://kabirakhadabazarmein.blogspot.com/2011/08/blog-post_09.html
    Tuesday, August 9, 2011
    माहवारी से सम्बंधित आम समस्याएं और समाधान ...(.कृपया यहाँ भी पधारें -)

    ReplyDelete
  15. sundar abhhivyakti...mere blog pe bhi aapka swagat hai

    ReplyDelete
  16. ख़ूबसूरत चित्र के साथ सुन्दर प्रस्तुति

    ReplyDelete
  17. sahaj shabdo me gajab ka lekhan....uttam rachana

    ReplyDelete
  18. wakai intzaar aisa hi hota hai...
    kitni sahjta se se bhaavon ko samet liya aapne... par wo intzaar ke pal katte hi nahi...

    ReplyDelete
  19. बहुत सुन्दर रचना , बहुत खूबसूर अंदाज

    ReplyDelete
  20. मंगलवार 02/07/2013 को आपकी यह बेहतरीन पोस्ट http://nayi-purani-halchal.blogspot.in पर लिंक की जा रही हैं ....
    आपके सुझावों का स्वागत है ....
    धन्यवाद !!

    ReplyDelete


  21. बहुत ही प्यारी और भावो को संजोये रचना......

    ReplyDelete
  22. सुन्दर, कोमल रचना..

    ReplyDelete

मैं अपने ब्लॉग पर आपका स्वागत करती हूँ! कृपया मेरी पोस्ट के बारे में अपने सुझावों से अवगत कराने की कृपा करें। आपकी आभारी रहूँगी।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

लिखिए अपनी भाषा में