Sunday, July 10, 2011

आगरा

              आगरा का इतिहास

आगरा एक ऐतिहासिक नगर है, जिसके प्रमाण यह अपने चारों ओर समेटे हुए है। 
इतिहास मे पहला ज़िक्र आगरा का महाभारत के समय से माना जाता है, जब इसे अग्रबाण या अग्रवन 
के नाम से संबोधित किया जाता था। कहते हैं कि पहले यह नगर आयॅग्रह के नाम से भी जाना जाता था । 
तौलमी पहला ज्ञात व्यक्ति था जिसने इसे आगरा नाम से संबोधित किया।
आगरा शहर को सिकंदर लोदी ने सन् 1506 ई. में बसाया था। आगरा मुगल साम्राजय की चहेती जगह थी। 
आगरा 1526 से 1658 तक मुग़ल साम्राज्य की राजधानी रहा। आज भी आगरा मुग़लकालीन इमारतों 
जैसे - ताज महललाल किलाफ़तेहपुर सीकरी आदि की वजह से एक विख्यात पर्यटन-स्थल है। 
ये तीनों इमारतेंयूनेस्को विश्व धरोहर स्थल की सुची में शामिल हैं। बाबर (मुग़ल साम्राज्य का जनक) ने 
यहाँ चौकोर (आयताकार एवं वर्गाकार) बाग़ों का निर्माण कराया।
 
     
           


                                            आगरा का किला 



                                 आगरा के लाल किले

20 comments:

  1. अच्छी जानकारी देता लेख| आभार|

    ReplyDelete
  2. मन को सुकून देने वाली ||
    सुन्दर ||

    बहुत-बहुत बधाई ||

    ReplyDelete
  3. महत्वपूर्ण जानकारियों से भरा हुआ एक बहुत ही बेहतरीन और ज़बरदस्त लेख..

    ReplyDelete
  4. एक बेहद उम्दा पोस्ट के लिए आपको बहुत बहुत बधाइयाँ.

    ReplyDelete
  5. shandar parichay agra ka .vidhya ji bahut khoob.

    ReplyDelete
  6. अच्छा परिचय ..आगरा का ...

    ----आगरा अपने शुरूआती काल में सदियों तक ब्रज क्षेत्र के भाग के रूप में रहा. महाभारत के पश्चात अर्जुनायन नामक गणराज्य के रूप में अर्जुन के वंशजों ने शासन किया...

    --- सन् १५८५ के आसपास आगरा विस्तार और जनसंख्या में लंदन से भी बढ़ चढ़ कर था. यहाँ के अंगूर और तरबूज ट्रांस आक्सियाना और पर्शिया से टक्कर लेते थे....

    ReplyDelete
  7. आपकी रचनात्मक ,खूबसूरत और भावमयी
    प्रस्तुति भी कल के चर्चा मंच का आकर्षण बनी है
    कल (11-7-2011) के चर्चा मंच पर अपनी पोस्ट
    देखियेगा और अपने विचारों से चर्चामंच पर आकर
    अवगत कराइयेगा और हमारा हौसला बढाइयेगा।

    http://charchamanch.blogspot.com/

    ReplyDelete
  8. सार्थक जानकारी के साथ-साथ सुन्दर चित्रों की प्रस्तुति ........बहुत अच्छा लगा

    ReplyDelete
  9. Bahut Sunder chitra....Abhar achchi jankari dene ke liye ...

    ReplyDelete
  10. vidya ji -you'r this post is superb .no word in my opinion to praise this .great photos of historic places .very rare information about historical places make your post unique .thanks a lot .

    ReplyDelete
  11. इस महत्‍वपूर्ण जानकारी के लिए आभार।

    ------
    TOP HINDI BLOGS !

    ReplyDelete
  12. महत्वपूर्ण एवं रोचक जानकारी के लिये आभार ! तस्वीरें बहुत सुन्दर हैं !

    ReplyDelete
  13. vidya ji
    bahut hee sundar jaankaari dee hai aapne...
    shukriyaa mere blog par aane ke liye bhee...
    aapka follower bann gaya hoon to aataa rahunga!

    ReplyDelete
  14. इस पोस्ट के माध्यम से ऐतिहासिक जानकारी ताज़ा हुई।
    अगर ये फोटो आपने खींचे हैं तो आप एक कुशल फोटोग्राफर भी हैं।

    ReplyDelete
  15. विद्या जी बहुत ही सुन्दर आप का ब्लॉग सुन्दर संकलन और छवियाँआगरा मथुरा और वृन्दावन आस पास के क्षेत्र सब पहले एक दुसरे से जुड़े था आज भी वहां हम जाते हैं तो मन खुश हो जाता है सुन्दर ऐतिहासिक जानकारी - -लब एवरी बॉडी शीर्षक ही स्वयम प्यारा है अभिवादन आप का -

    सच ही शिव है शिव ही करता -सच की महिमा आप के मन को भायी सुन हर्ष हुआ आइये सब मिल सच को गले लगाये बढे चलें हमारा मोल बढेगा -
    शुक्ल भ्रमर ५

    ReplyDelete
  16. सार्थक जानकारी के साथ-साथ सुन्दर चित्रों की प्रस्तुति

    ReplyDelete
  17. आगरा का परिचय ... इन लाजवाब चित्रों के साथ ... मज़ा आ गया ...

    ReplyDelete

मैं अपने ब्लॉग पर आपका स्वागत करती हूँ! कृपया मेरी पोस्ट के बारे में अपने सुझावों से अवगत कराने की कृपा करें। आपकी आभारी रहूँगी।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

लिखिए अपनी भाषा में